कोई भी बच्चा ना रहें शिक्षा से वंचित,बालिका शिक्षा को मिले बढ़ावा- राजस्व मंत्री, राजस्व मंत्री ने 75 लाख की लागत के विकास कार्यों का किया शिलान्यास

जयपुर। राजस्व मंत्री श्री रामलाल जाट सोमवार को भीलवाड़ा जिले के दौरे पर रहे। उन्होंने इस दौरान राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, सुभाषनगर में यूआईटी द्वारा स्वीकृत लगभग 75 लाख की लागत के डोम (शेड) व अन्य विकास कार्यों का शिलान्यास किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला कलक्टर श्री आशीष मोदी ने की।

राजस्व मंत्री श्री रामलाल जाट ने शिलान्यास कार्यक्रम में कहा कि पिछले चार सालों में शिक्षा का स्तर बढ़ा हैं, साथ ही सरकारी स्कूलों में नामांकन में बढ़ोतरी हुई हैं। मुख्य अतिथि श्री जाट ने विद्यालय में डिजिटल लाइब्रेरी व कंप्यूटर आदि उपकरणों के लिए 15 लाख रुपए की घोषणा भी की। राजस्व मंत्री जाट ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान नए आयाम छू रहा है।

महापुरुषों और उनकी शिक्षाओं को याद करते हुए उन्होंने बच्चों को महापुरुषों की जीवनियां पढ़कर उनकी शिक्षाएं जीवन में उतारने पर जोर दिया। शिक्षा के विकास में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य के सरकारी विद्यालयों में व्यवहारिक व जीवन में काम आने वाली शिक्षा दी जा रही है ।

श्री जाट ने कहा कि  सरकारी स्कूलों में व्यावसायिक शिक्षा के माध्यम से रोजगारपरक शिक्षा दी जा रही है। राज्य में नए अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने के साथ मौजूदा स्कूलों को क्रमोन्नत किया जा रहा हैं। जिले का कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न रहे। बालिका शिक्षा को बढ़ावा दिया जाए।

उन्होंने कहा कि बच्चों को व्यावसायिक शिक्षा के साथ व्यवहारिक शिक्षा भी मिले। बच्चों को जानकारी हो कि उनके क्षेत्र के वार्डपंच, एमएलए सहित विभिन्न लोगों द्वारा क्या क्या काम करवाए जाते हैं। उन्होंने छात्रों से कहा कि मोबाइल का अनावश्यक उपयोग न करें। यह मानसिक तनाव व अवसाद का कारण बनता है।

राजस्व मंत्री में कहा कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता हैं, इसलिए बच्चों को पढ़ाई के साथ खेल कूद पर भी ध्यान देना चाहिए। राज्य सरकार द्वारा खिलाड़ियों को नौकरियों में आरक्षण भी दिया जा रहा हैं

भीलवाड़ा जिला कलक्टर श्री आशीष मोदी ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं।  बच्चों के शिक्षा के लिए हर संभव सुविधाएं और उपकरण की उपलब्धता राज्य सरकार द्वारा सुनिश्चित की जा रही हैं।

error: Content is protected !!